इंसान अपना वो चेहरा तो

●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬▬●
*”ॐ”
*इंसान अपना वो चेहरा तो*
खूब सजाता है , जिस पर
लोगों की नज़र होती है
मगर आत्मा को सजाने की
कोशिश कोई नही करता,
जिस पर परमात्मा की नजर होती है।
??? शुप्रभात ???
●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬▬●

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *